क्या भारत मे नहीं है कोई कंपनी जो कोरोना की टेस्टिंग किट बना सके

क्या भारत मे नहीं है कोई कंपनी जो कोरोना की टेस्टिंग किट बना सके

दुनिया जहाँ कोरोना आपने पैर तेजी से फैला रहा है वही दुनिया में टेस्टिंग किट की कमी भी हो रही है जिसकी वजह से दुनिया में टेस्टिंग किट की किल्लत बढ़ गयी है | जहा दुनिया में हर कोई मानवता को बचने में लगा है वही चाइना सिर्फ लाह कमाने के चक्कर में है अगर सिर्फ लैह कमाने तक सीमित होता तो भी दुनिया को संतोष हो जाता पर जैसा की चीन का सभव की छली  वाला है  तो वो वही कर रहा है जिससे उसको बदनामी भी उठानी पड रही है |  दुनिया को घटिया किट बेचकर वो दुनिया को मुसीबत में तो दाल ही रहा है इस लिए दुनिया के बहुत से देशो ने बहिस्कार करना सुरु दिया है

भारत ने भी चाइना से किट मंगाई थी ताकि ज्यादा और जल्दी से जांच की जा सके पर जो किट आयी है उसकी गुणवत्ता पर सवाल बहुत उठ रहे है | राजस्थान समेत बहुत से राज्य इसकी शिकायत कर चुके है और इसी वजह से आप ICMR ने बैच टेस्टिंग और रेंडम टेस्टिंग का फैसला लिया है | और दो दिनों तक किसी को भी इस किट से टेस्टिंग करने को मन कर दिया है अब बात आती है क्या भारत में इस टेस्टिंग किट को विकसित नहीं किया जा सका क्या ?

क्या भारत मे नहीं है कंपनी

ICMR  के पास 13  भारतीयों और विदेशी कंपनियों ने सैंपल दिए थे जिनमे से 4  कंपनी भारत की ही है उन चार में से अभी तक ३ कंपनी को भारत सरकर ने किट बनाने का लाइसेंस भी दे दिया है

ICMR ने ये भी चेक किया की कोण सी कंपनी कच्चा मटेरियल उत्पाद बनाने के लिए कहा से खरीद रही है |

जिन 3 भारतीय कंपनी को लाइसेंस दिए गया है  उनका विवरण ऐसे है

1. Vanguard Diagnostics in New Delhi
2. HLL Lifecare Limited Kerala
3. Voxtur Bio Limited, Gujrat

Vanguard Diagnostics in New Delhi:

ये कंपनी दिल्ली के ओखला इंडस्ट्रियल एरिया मैं है और इसकी मालकिन विणा कोहली है  विणा कोहली ने कहा की  उनको ये किट बनाने की सुरवात के लिए 2 -3 हफ्ते का समय लगेगा |

“हमने अभी तक निर्माण शुरू नहीं किया है क्योंकि हम आंतरिक रूप से उत्पादन के लिए तैयार हो रहे हैं। अगर सब ठीक रहा तो हमें अगले दो से तीन सप्ताह में उत्पादन शुरू करने में सक्षम होना चाहिए। रैपिड टेस्ट किट की बहुत मांग है, और हर कोई यह सुनिश्चित करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है कि किट भारत में उत्पादित हो। मेरी राय में, अगले कुछ हफ्तों के दौरान कई अन्य निर्माता भी तैयार होंगे, ”वंगार्ड डायग्नोस्टिक्स लिमिटेड की सीईओ का बयांन

HLL Lifecare Limited, Kerala:

भारत सरकार की इकाई जो की पहले भी भारत में लोकप्रिय कंडोम ब्रांड निरोध के उत्पादन के लिए जानी जाने वाली एचएलएल लाइफकेयर लिमिटेड ने 14 अप्रैल को अपने मानेसर, हरियाणा संयंत्र में आरटीके का उत्पादन शुरू किया। इसका उद्देश्य 20 अप्रैल तक 100,000 किट का पहला बैच तैयार करना है।

“हमने सोमवार [13 अप्रैल] को सीडीएससीओ से अनुमोदन प्राप्त करने के बाद [किटों का निर्माण] शुरू किया है। हमारे पास एक सप्ताह में 100,000 परीक्षण किट बनाने की क्षमता है। हम सीधे ICMR को आपूर्ति करेंगे, ”- HLL Lifecare Limited के अधिकारी

हमने सोमवार [13 अप्रैल] को सीडीएससीओ से अनुमोदन प्राप्त करने के बाद [किटों का निर्माण] शुरू किया है। हमारे पास एक सप्ताह में 100,000 परीक्षण किट बनाने की क्षमता है। हम सीधे ICMR को आपूर्ति करेंगे,: HLL Lifecare Limited के अधिकारी ने रिपोटर को बिना नाम बताने की शर्त पर |

Voxtur Bio Limited, Gujrat

सूरत स्थित वोक्सटूर बायो लिमिटेड किट विकसित करने के लिए स्वदेश निर्मित कच्चे माल का उपयोग कर रहा है।

“हमें चीन या किसी अन्य देश से कोई लेना-देना नहीं है; हम किट और कच्चे माल को स्वदेशी रूप से विकसित करने के लिए आवश्यक कच्चे माल का निर्माण कर रहे हैं।

हमारे पास महीने में 10 मिलियन किट का उत्पादन करने की क्षमता है,यदि आवश्यक हो तो हम इसे दोगुना कर सकते हैं। लेकिन हमें विक्रेताओं, वितरकों की तलाश करनी चाहिए और अन्य लॉजिस्टिक्स का प्रबंधन करना चाहिए, इसलिए लाइसेंस प्राप्त करने के दिन से उत्पादन शुरू करने में लगभग 10-12 दिन लगते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *