घर लौट जाने से समस्या मिट जायेगी

  • घर लौट जाने से समस्या मिट जाएगी क्या।

भारत  में कोरोना का कहर क्या है ये कहने की अब शायद जरूरत ही नही रही है। 40 दिन से उद्योग धन्धे बन्द है  लोग बड़ी मात्रा में अपने गाँव को लौट रहे है। शायद ही कोई हो जो कुछ जोड़ कर अपने घर ले जा रहा हो।

सरकारी मदद अभी भी एक भ्रष्ट तंत्र से बाहर नही निकल पाई है। कुछ जगह तो केवल कागजों में ही डाब कर राह गईं है।  कुछ जगह चावलो में कंकड़ के रूप में मिली है।

महीने के 7.5 किलो अनाज में  गरीबो को महीने काटने की सलाह सरकार को देने वाले भी धन्य है। बिहार जैसी सरकार तो 5 किलो में ही महीना कटवा रही है।

ऐसे में सवाल है कि  जब बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्प्रदेश  जैसे राज्य के मजदुर आपने राज्य में काम न मिलने के कारण ही दूसरे राज्य में जा के बसे थे अब फिर वापिस  जाके वो करेंगे क्या?

बहुत से मजदूर  जिनके पास जमीन है वो तो खेती कर के काम चला भी लेंगे पर बाकी के क्या करेंगे? जिनके पास जमीन नही है। उनको तो मरना ही समझो। अब ऐसे में उन्हें आपने रिस्तेदारो से उम्मीद का सहारा ही नज़र आ रहा है।

भारत मे किसानों के हालात वैसे भी उन्न्त नही है । जीतना वो खेतो में लगता है उसका आधा भी उससे निकाल नही पता।

आज सरकारों से ज्यादा लोगो को सोचना होगा कि शराब और चन्द पैसे में वोट बेचने का नतीजा क्या मिल रहा है।

सवाल हर नागरिक को उसके inपंचायत के पांचों से पूछना चाहिए गांव की तरक्की के लिए उन्होंने क्या किया।

सबसे ज्यादा लोगो को ये खुद से भी पूछना चाहिए उन्होंने आपने गांव , अपने समाज और अपने देश के लिए क्या किया और सोचना चाहिए छोटी सी लालच में उन्होंने अपनी ताकत क्यों खो दी। हमने नेता अपनी बेहतरी के लिए बनाए थे न कि उनकी अपनी उन्नति के लिए।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *